Vananchal Sashaktikaran Yojna

शिवगंगा झाबुआ:वनांचल सशक्तिकरण योजना
*********************************************
झाबुआ में शिवगंगा समग्र ग्रामविकास परिषद द्वारा २००७ से अभी तक वनांचल के ६००० युवाओं का सशक्तिकरण किया जा चुका है, ये सभी युवा अपने अपने गाँव की समृद्धि के लिये जल, जंगल, जमीन के संवर्धन से समृद्धि लाने की दिशा में सोचने और कुछ करने की योजना बनाने लगे हैं।
————————————————–
युवाओं के विषय में क्या कहते हैं समाविज्ञानी पढ़िये यह संक्षिप्त आलेख :-
युवा शक्ति का लोहा दुनिया भर में माना जाता है लेकिन युवा शक्ति को सकारात्मकता की ओर मोड़ना बहुत बड़ी चुनौती होती है और जहाँ इस शक्ति को सही दिशा में मोड़ा जा सका है वहीं नई ऊँचाइयाँ नापी जा सकी हैं। विशेषज्ञों का मानना है कि युवा शक्ति की उर्जा का सकारात्मक कार्यों में उपयोग करना समाज और सरकार की सामूहिक जिम्मेदारी है और इसे निभा कर ही युवाओं को सृजनात्मक कार्यो में लगाया जा सकता है।

समाजशास्त्री डॉ. भूपेंद्र गौतम इसे कुछ ऐसे व्यक्त करते हैं, ‘ये बात सर्वव्यापी है कि भारत में युवाओं की जितनी संख्या है, उतनी और कहीं नहीं है। भारत के साथ एक सकारात्मक पहलू यहाँ के युवाओं का संस्कारी होना है। पश्चिमी देशों में युवाओं के पथभ्रष्ट होने की काफी आशंका रहती है, उसकी तुलना में भारत में ऐसे होने की आशंका बहुत कम है।

इतने सारे सकारात्मक पहलुओं के बावजूद अगर युवाओं में नकारात्मकता पैदा हो रही है, तो इसे दूर करने के लिए समाज में हर स्तर पर प्रयास की जरूरत है।’ उन्होंने कहा, ‘समाज का युवा वर्ग विभाजित सा है, एक तरफ महानगरों की युवा शक्ति है, जो निजी क्षेत्रों में लगातार सफलता के नए आयाम छू रही है, वहीं दूसरा पहलू हम हिंसक घटनाओं के रूप में रोज टीवी पर देख रहे हैं। युवाओं की इस नकारात्मक शक्ति को सकारात्मकता की ओर मोड़ना समाज और सरकार का सामुदायिक दायित्व होना चाहिए।’
=============================
शिवगंगा झाबुआ ने विषय की। गंभीरता को समझकर प्रयास प्रारंभ किये जिसका परिणाम झाबुआ और आलीराजपुर दोनों जिलों में दिखने लगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *